हेलो दोस्तों कैसे हो आप सब लोग उम्मीद करता हु आप लोगो ने Animal Farm Book Summary in Hindi का भाग १ पढ़ लिया होगा और अब आप भाग २ पढ़ने आये होंगे। दोस्तों अगर आप ने भाग १ नहीं पढा है तोह पहले भाग १ पढ़िए बाद में आप भाग २ पढ़िएगा।

Animal Farm Book Summary in Hindi Chapter - 1

तोह शुरू करते है Animal Farm Book Summary in Hindi Chapter - 2


Animal Farm Book Summary in Hindi Chapter - 2


तोह दोस्तों Chapter 1 में हमने देखा था की बूढे सुवर की बातें कुछ जानवरो को काफी प्रोत्साहित करती है और दूसरे सारे जानवरो ने फैसला कर लिया होता है की हम Farm के मालिक Mr Jones को Farm से भगा के ही रहेंगे और क्रांति ले आएंगे।

लेकिन अब क्रांति लाने के लिए सब का साथ होना ज़रूरी है ना, वोह कहते है न सब का साथ सब का विकास, तोह जो Farm के सुवर थे उन्हें दूसरे जानवरो को अपने साथ करना बहुत ज़रूरी था.

और कैसे भी करके Farm के सुवरो ने दूसरे जानवरो को अपने साथ कर लिया और क्रांति की, और Farm के मालिक Mr Jones को farm से भगा दिया। और Farm के दो नेता बन गए वह दो सुवर जिनका नाम था Napoleon और Snowball. 

यह दोनों सुवरो ने Farm के जितने भी जानवर थे उन सब को मार्गदर्शन देना शुरू कर दिया और एक दिन खाना खाने के बाद उन्होंने एक घोषणा की, की पिछले कुछ महीनो से हम सारे सुवरो ने पढना लिखना सिख लिया है इस लिए हम सब ने फैसला किया है की इस Farm का नाम Manor Farm से बदल कर Animal Farm कर दिया जाए.

फिर उन सुवरो के दल में से Snowball ने कहा की हमने यहा रहने वाले जानवरो के लिए ७ नियम बनाये है और वह ७ नियम हर जानवर को हर हाल में पालन करना है. तोह जो Snowball था वह सीडी पे चडा और नियम लिखने लगा.

नियम कुछ इस अनुसार थे

१  - दो पैरो वाले जीव यानी के इंसान हमारे दुश्मन है 

२  - चार पैरो वाले जिनके दो पैर और दो पंख हो वह हमारे दोस्त है

३ - कोई भी जानवर इंसानो की तहरा कपडे नहीं पहनेगा

४  - कोई भी जानवर बिस्तर पर नहीं सोयेगा

५ - कोई भी जानवर शराब नहीं पीयेगा

६ - कोई भी जानवर दूसरे जानवर को नहीं मारेगा

७ - सारे जानवर एक समान है किसी के साथ भी भेदभाव नहीं होगा

Snowball ने यह नियम लिख कर सब जानवरो के सामने पढे जिस्से से सारे जानवरो ने अपनी सहमति जताई।

अब देखिये Mr Jones को इन जानवरो ने Farm से भगा तोह दिया लेकिन इस Farm को चलाने के लिए इसका संचालन करना ज़रूरी था. संचालन करना था की किस को कितना काम दिया जाए और कोनसा क्योँकि अब इन जानवरो को Farm को चलाने के लिए खुद मेहनत करनी होगी।

तोह जो जानवर थे वोह मेहनत करने लगे खेती-बाडी करने लगे ताकि Farm का काम न रुके। लेकिन जो सुवर थे वोह सारे जानवरो में से सब से ज़्यादा चालाक और समझदार थे, इन सुवरो ने कैसे भी करके कुछ ऐसे तरीके निकाल लिए की बिना मेहनत के काम हो जाए.

और इन सुवरो ने इंसानो की तहरा दो पैरो पे खडा होना शुरू कर दिया था जो कही न कही उनके नियमो का उलंघन था और दूसरे जानवर यह सब देख रहे थे की नियमो का उलंघन हो रहा है लेकिन बोल कोई नहीं रहा था, क्योँकि सुवर कही न कही Farm के नेता थे.

लेकिन खैर जो भी हो जानवरो ने अपने हिसाब से उपज की थी जिसके वजह से काफी अच्छा खासा उत्पादन हुआ था और ऐसे ही इन जानवरो की मेहनत से काम अच्छे से चलने लगा और Farm अच्छे से चलता रहा.

और एक और बात में आपको यहाँ बता दू की जो भी यह जानवर खेती के जरिये उत्पादन कर रहे थे वोह खुद ही इनसे फायदा उठाने वाले थे किसी भी इंसान के साथ वोह बाटने वाले नहीं थे. 

लेकिन ऐसा भी नहीं है की कोई कठिनाई नहीं आयी कठनाई भी आई जैसे अनाज जो था उसको कैसे ताडा जाए क्योंकि अनाज को ताडने के लिए साधन की ज़रुरत होती है वह साधन तोह था नहीं, लेकिन सुवरो के पास दिमाग था इसका तोड निकालने के लिए, तोह उन सुवरो ने यह काम Farm के सब से ताकतवर जानवर Boxer को दे दिया तोह जो यह कठनाई भी थी वोह दूर हो गयी.

तोह कुल मिलाकर देखा जाए तोह Mr Jones की गैर मौजूदगी में काम अच्छे से हो रहा था, सबकुछ नियमो के हिसाब से संचालन के हिसाब से हो रहा था रविवार को नास्ते के बाद सब जानवरो की मीटिंग होती थी की हमने हफ्ते भर कैसे काम किया और काम में कैसे सुधार लाया जा सकता है तोह एक मीटिंग होती थी जिसमें अच्छे से विचार-विमर्श होता था.

मैंने एक सुवर के बारे में आपको बताया था जिसका नाम था Napoleon उसने देखा की Animal Farm में एक कुतिया ने ९ बच्चो को जन्म दिया, अब पता नहीं Napoleon को उन ९ बच्चो पर प्यार आने लगा और वह चाहता था की इनका पालनपोषण वह खुद करे और उनको शिक्षित भी वह खुद ही करना चाहता था.

अब उसको मना करने वाला तोह कोई भी था नहीं क्योँकि उसका कहना था की में कुत्ते के बच्चो को अपने हिसाब से शिक्षित करना चाहता हु क्योँकि अभी इनका दिमाग बिलकुल साफ है जवान है इनको कुछ भी सिखाये जाएगा वोह अच्छे से सिख जाएंगे।

लेकिन यह Napoleon भाई साहब के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था क्योँकि वह सिर्फ कुत्ते के बच्चो को ही क्योँ शिक्षित करना चाहता था, खैर यह तोह हमे आने वाले भागो में पता चलेगा की वजह क्या था इसके पीछे।

अब हुआ क्या की सुवरो ने Farm के दूध और सैब अपने खुद के लिए अलग करना शुरू कर दिया और धीरे धीरे पूरे England को पता चल गया की Animal Farm नाम की कोई जगह है जहा पर जानवर खुद अपनी चलाते है. और Napoleon और Snowball तोह यही चाहते थे की पूरी दुनिया में उनका नाम हो पूरी दुनिया के जानवर उनसे प्रेरित हो.

Mr Jones अब पहले से ज़्यादा शराब पीने लग गया था और अपनी किस्मत को दोष दे रहा था यह देखकर जो दूसरे मालिक थे मतलब जो दूसरे Farm के मालिक थे उन्होंने Mr Jones का साथ देने के फैसला किया क्योँकि उनको भी कही न कही डर था की कही हमारे जानवर भी बगावत पर न उतर आये.

तोह अब Mr Jones क्या करेगा क्या वोह Farm पर वापस अपना कब्ज़ा जमा पायेगा, क्या Farm के सारे जानवर नियमो का पालन अच्छे से कर पाएंगे, इन सब का जवाब आने वाले भागो में पता चलेगा।

Animal Farm Book Summary in Hindi Chapter - 3

तोह दोस्तों यह था  Animal Farm Book Summary in Hindi Chapter - 2 की हिंदी में सारांश, उम्मीद करता हु की आपको यह सारांश पसंद आया होगा, पसंद आया हो तोह अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करएगा और अगर कोई सुझाव हो तोह कमेंट के ज़रिये आप बता सकते है.

धन्यवाद।